-
DAYS
-
HOURS
-
MINUTES
-
SECONDS

THIS YEAR 2024 READ MORE WEB STORY

यह भाषा भारत के सबसे ज्यादा हिस्सों में बोली जाती है। और इसकी महत्ता को समझते हुए गाँधी जी ने इसे राष्ट्रभाषा बनाने की बात कही थी। सन 1953 से पुरे भारत में हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है।

Read More

स्वर्ग-नरक
हैं। दुनिया का हर व्यक्ति इसका अनुभव करता है,पर समझता नहीं। यहीं स्वर्ग से सुख है और नरक जैसे दुःख भी। जिस समाज में शांति, सदभाव और भाईचारा है वहीं स्वर्ग है क्योंकि वहां सुख-समृद्धि है।

Read More

कुछ सर्ग कामायनी जैसे फिर से धरती पर उतर गये,
फिर से जल प्लावन दृश्य पुराने इसी धरा पर उभर गये।
सम्बन्ध श्वास के औ’ तन के फिर से मन को तड़पाएँगे,
फिर से पुरवाई आयेगी, पर वे दिन लौट न पाएंगे।

Read More

मथुरा के राजा कंस बहुत ही क्रूर और अत्याचारी राजा था वह सभी वासियों पर जुर्म करता था। कंस की बहन देवकी थी और वह अपनी बहन देवकी की शादी महाराज वासुदेव से करता है और शादी होने के बाद जब बहन की विदाई करता है तो उसी समय आकाश से भविष्यवाड़ी होती है कि इसी देवकी के आठवे पुत्र के द्वारा तेरा वध निश्चित है।

Read More

एक-एक पल बीता, एक-एक दिन बीत गये,
मास गये पल-पल कर औ’ कुछ साल गये,
कितने सूरज जन्मे और बड़े होकर
अपनी रक्तिम किरणे जग को दिया किये।
कितने सूरज उदित हुए फिर अस्त हुए;
अंतर के स्वर को दाबे सा मौन-मौन
लेकिन प्रश्न एक है,अब भी वहीं खड़ा,

Read More
  • Sign Up
Lost your password? Please enter your username or email address. You will receive a link to create a new password via email.
Exit mobile version