fbpx
-
DAYS
-
HOURS
-
MINUTES
-
SECONDS

THIS YEAR 2024 READ MORE WEB STORY

World Teachers day
World Teachers day

भारत में शिक्षक दिवस 5 सितंबर को मनाया जाता है। इस दिन को डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन, जो एक उत्तम शिक्षक भी थे, के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता है। लेकिन विश्व शिक्षक दिवस (World Teachers Day 2023) के रूप में यह दिन अंतर्राष्ट्रीय रूप में 5 अक्टूबर को मनाया जाता है। यूनिसेफ, अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन और एजुकेशन इंटरनेशनल (EI) हर साल इस दिन को शिक्षकों के महत्वपूर्ण योगदान को समर्थन देने के उद्देश्य से मनाते हैं।

इस दिन का इतिहास इस प्रकार है कि साल 1966 में ‘टीचिंग इन फ्रीडम’ संधि को बनाया गया, जिसमें शिक्षकों के अधिकारों और दायित्वों के मुद्दे पर समझौता हुआ। इस समझौते के माध्यम से दुनिया भर के शिक्षकों की स्थिति को सुधारने और उन्हें जागरूक करने का प्रयास किया गया। 1994 में, यूनिसेफ ने इस समझौते में 100 देशों को शामिल किया और शिक्षकों के लिए कई कानून बनाए। UNESCO ने इसी साल 5 अक्टूबर को विश्व शिक्षक दिवस (World Teachers Day) के रूप में मान्यता दी, क्योंकि 5 अक्टूबर 1966 को Teaching in Freedom संधि पर हस्ताक्षर किए गए थे। साल 1994 से हर साल 5 अक्टूबर को विश्‍व शिक्षक दिवस मनाया जाता है।

विभिन्न देशों में अलग-अलग दिनों पर शिक्षक दिवस (Teachers Day) मनाया जाता है, जैसे कि अमेरिका में मई के पहले सप्ताह के मंगलवार, थाईलैंड में 16 जनवरी, तुर्की में 24 नवंबर, चीन में 10 सितंबर, मलेशिया में 16 मई, और रूस में पहले रविवार को मनाया जाता है।

शिक्षक दिवस (Teachers day): शिक्षकों के महत्व का साक्षरता में योगदान

शिक्षक दिवस (Teachers day) भारत में हर साल 5 सितंबर को मनाया जाता है और इस दिन को विशेष धृष्टि से शिक्षकों के महत्व को साक्षरता में प्रगल्भ करने के लिए समर्पित किया जाता है। यह दिन भारतीय शिक्षा तंत्र के मूल नेता और उदाहरण माने जाने वाले डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन पर मनाया जाता है। डॉ. राधाकृष्णन एक महान शिक्षक, विचारक, और राजनेता थे, जिन्होंने शिक्षा के क्षेत्र में अपने महत्वपूर्ण योगदान के लिए जाने जाते हैं।

शिक्षा: समाज के विकास का माध्यम

शिक्षा मानव समाज के विकास और प्रगति के लिए एक महत्वपूर्ण माध्यम है। यह न केवल ज्ञान और विज्ञान की ओर हमारे कदम बढ़ाता है, बल्कि यह भी सदाचार, नैतिकता, और सामाजिक मूल्यों की प्रतिष्ठा करता है। शिक्षा के माध्यम से हम नये विचार और विचारधारा को समझते हैं और अपने समुदाय और देश के साथ समरसता बनाने के लिए तैयार होते हैं।

शिक्षा न केवल विद्या की प्राप्ति है, बल्कि यह एक सोचने और समझने की क्षमता का विकास भी है। शिक्षा हमें दुनिया के विभिन्न पहलुओं को समझने में मदद करती है और हमारे विचारों को बदलने की क्षमता प्रदान करती है। यह हमारे सोचने का तरीका बदल सकता है और हमें नए और सोच में बिलकुल नए दृष्टिकोण प्रदान कर सकता है।

शिक्षकों का महत्व: दिशा देने वाले और प्रेरणा सृजने वाले

शिक्षक वे मार्गदर्शक होते हैं जो छात्रों को ज्ञान की दिशा में अग्रसर करते हैं। वे न केवल पाठ्यक्रम की पढ़ाई करवाते हैं, बल्कि छात्रों के विकास को सामाजिक, मानसिक, और नैतिक दृष्टिकोण से भी ध्यान में रखते हैं। एक अच्छा शिक्षक छात्रों को सोचने की क्षमता देता है, उनके सामाजिक और नैतिक मूल्यों को समझाता है, और उन्हें समृद्धि की दिशा में मार्गदर्शन करता है।

शिक्षकों का महत्व समृद्धि और समाज के विकास में अत्यधिक होता है। वे हमारे भविष्य को निर्माण करने के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं और नए पीढ़ियों को ज्ञान के साथ-साथ नैतिकता और सदाचार की महत्वपूर्ण शिक्षा देते हैं। वे छात्रों के जीवन में एक महत्वपूर्ण प्रेरणा स्रोत होते हैं और उन्हें उनके सपनों को पूरा करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।

समर्थ शिक्षकों की महत्वपूर्ण भूमिका

शिक्षक दिवस (Teachers day) के अवसर पर हमें यह याद दिलाने का मौका मिलता है कि शिक्षकों का महत्व अत्यधिक है और हमें उनके योगदान को सराहना चाहिए। उनके बिना कोई समाज और समृद्धि नहीं पा सकता। इसलिए, हमें उन्हें सम्मान और प्रशंसा देनी चाहिए और उनके योगदान को महत्वपूर्ण बनाने का प्रयास करना चाहिए।

शिक्षक दिवस (Teachers day) के इस मौके पर हमें शिक्षकों के प्रति आपकृति और आभार व्यक्त करने का अवसर मिलता है। उनके संघर्षों, मेहनत और समर्पण को सराहना करना हमारा दायित्व है। इस दिन को यहाँ तक पहुँचाने के लिए उनके प्रति आपकृति और समर्थन व्यक्त करना अत्यंत महत्वपूर्ण है।

Read More:-

1-विश्व शिक्षक दिवस(World Teachers Day) क्यों मनाया जाता है?

समापन

शिक्षक दिवस (Teachers day) हमारे शिक्षकों के महत्वपूर्ण योगदान को मान्यता और समर्थन देने का एक महत्वपूर्ण दिन है। यह एक मौका है जब हम उनके संघर्षों को सराहना कर सकते हैं और उनके समर्पण को समझ सकते हैं। शिक्षकों के बिना कोई समाज और समृद्धि नहीं पा सकता, और हमें उनके योगदान को सराहना और समर्थन देने का प्रयास करना चाहिए। शिक्षक दिवस के इस खास अवसर पर हमें उनके प्रति आपकृति और आभार व्यक्त करने का समय है और उनके साथीयों के साथ इस महत्वपूर्ण दिन को मनाने का उत्कृष्ट तरीके से उत्सव करने का मौका है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

April fool 2024: Why is April Fool celebrated? Bihar board result 2024 realise यह त्योहार ईसाई समुदाय के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है। Learning from Shiba Inu to Osaka Protocol Gate 2024 Result Declared