fbpx
-
DAYS
-
HOURS
-
MINUTES
-
SECONDS

THIS YEAR 2024 READ MORE WEB STORY

waves, sea, ocean
waves, sea, ocean
ocean

मैं अबाध गति हूँ, मैं अमर्त्य जीवन,
कजरी की शाश्वतता, अंतहीन सावन।
गहरी लम्बी सी निशा की मैं झनझन,
डूब रहा तिरता सा एक अकेला मन।
रुकती सी, चलती सी, खुशियाँ और वेदना,
मुझे मत रोकना।

कर दे जो शांत पिपासा, मैं वह जल हूँ,
हर एक हर्ष व्यथा का अन्तः स्थल हूँ।
सृष्टि के कण-कण में गूंज रहा रव हूँ,
जीवन के गर्भ का पहला प्रसव हूँ।
बेसुध होते जाते प्राणो की चेतना,
मुझे मत रोकना।

किसी पारी-कथा की स्निग्ध-सौम्य-कल्पना,
रंगों से सजी हुई कोई सुघर अल्पना,
शिशु के करधनी के किं किं का स्वर हूँ,
टेढ़ी-मेढ़ी ऊँची-नीची डगर हूँ।
भला नहीं उन्मुक्त कदमो को टोकना
मुझ्रे मत रोकना।

कुछ पल को रुका, मगर नहीं थका है तन,
बोझिल सी साँसे, पर नहीं बुझा है मन।
निश्चित है लछ्य अभी, अविचलित दृष्टि है,
वही भाव है मेरे, वही अभी सृष्टि है।
अब भी है लछ्य की आँखों को भेदना,
मुझे मत रोकना।

सच है सुनसान में बसा एक घर हूँ,
तीव्रतर करता स्पन्दन, वह डर हूँ,
जीवन भर अंकित था मन पर, वह छाप हूँ,
आखिर एक मानव हूँ पुण्य हूँ, पाप हूँ।
बहा लिए जाती है मेरी संवेदना
मुझे मत रोकना।

Motivation Poem In Hindi

Main Abadh Gaty Main Amartya Jiwan

Kajari Ki Shaswatata Antheen Sawan

Gahari Lambi Si Nisha Ki Main Jhanjhan

Dub Raha Tirta Sa Ak Akela Man

Rukaty Si Chalaty Si Khusiya Aur Vedana

Mujhe Mat Rokana

Kar De Jo Shant Pipasha Main Wah Jal Hun

Her Ak Harsh Vyatha Ka Antah Sthal Hun

Sristy Kal-Kal Me Guj Raha Rav Hun

Jiwan Ke Garbh Ka Pahala Prasav Hun

Besudh Hote Jaate Prano Ki Chetana

Mujhe Mat Rokana

Kisi Pari Katha Ki Snigdh Saumya Kalpana

Rango Se Saji Hui Koi Sughar Alpana

Shishu Ke Kardhani Ke Ki Ki Ka Swar Hun

Tedi-Medi Unchi-Ninchi Dagar Hun

Bhala Nahi Unmukt Kadamo Ko Tokana

Mujhe Mat Rokana

Kuch Pal Ko Ruka Magar Nahi Thaka Hai Tan

Bojhil Si Sanse Per Nahi Bujha Hai Man

Nischit Hai Lachhya Abhi Avichlit Dristy Hai

Wahi Bhaw Hai Mere Wahi Abhi Sristy Hai

Ab Bhi Hai Lachhya Ki Ankho Ko Bhedana

Mujhe Mat Rokana

Sach Hai Sunsan Me Basa Ak Ghar Hun

Tivrata Karata Spandan Wah Dar Hun

Jiwan Bhar Ankit Tha Man Per Wah Chhap Hun

Akhir Ak Manav Hun Punya Hun Pap Hun

Baha Liye Jaty Hai Meri Sanvedana

Mujhe Mat Rokana

Related Posts

April fool 2024: Why is April Fool celebrated? Bihar board result 2024 realise यह त्योहार ईसाई समुदाय के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है। Learning from Shiba Inu to Osaka Protocol Gate 2024 Result Declared